Thursday, July 25, 2024

Russia-Ukraine War: यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर पावर प्लांट के प्रवक्ता ने कहा कि दक्षिणी यूक्रेन के एनेर्होदर शहर में रूस के पावर प्लांट पर हमला करने के बाद से रिएक्टर में आग लग गई। एक सरकारी अधिकारी ने द एसोसिएटेडेट प्रेस (AP) को बताया कि जपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट के आस-पास के क्षेत्र में रेडिएशन (Radiation levels at a nuclear power plant) का स्तर बढ़ा हुआ पाया गया है। इस स्थान पर देश की करीब 25 प्रतिशत बिजली का उत्पादन होता है।

इस बीच, यूक्रेन (Ukraine) के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा (Ukrainian Foreign Minister Dmytro Kuleba) का बयान सामने आया है। कुलेबा ने ट्वीट कर रूसियों से हमले को रोकने और दमकल टीमों को अंदर जाने देने की अपील की।

उन्होंने कहा कि रूसी सेना यूरोप के सबसे बड़े न्यूक्लियर पॉवर प्लांट (Nuclear power Plant) पर हर तरफ से गोलीबारी चल रही है, आग पहले ही भड़क चुकी है। विदेश मंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर यह फटता है तो चेरनोबिल (Chornoby) से भी 10 गुना ज्यादा खतरनाक होगा।

प्लांट के प्रवक्ता एन्ड्री तुज ने यूक्रेनी टेलीविजन को बताया कि आग को बुझाने के लिए लड़ाई रोकी जानी बेहद जरूरी है। रूसी सेना यूक्रेनी शहर एनेर्होदर पर नियंत्रण के लिए गुरुवार से लड़ाई लड़ रही है, जहां यूरोप का सबसे बड़ा न्यूक्लियर पावर प्लांट है और उन्होंने देश को समुद्र मार्ग से काटने के लिए भी काफी मशक्कत की है। देश के नेताओं ने नागरिकों से आक्रमणकारियों के खिलाफ छापामार युद्ध करने का आह्वान किया है।

रूसी हमले के तुरंत बाद यूक्रेनी विदेश मंत्री ने रूस सहित पूरी दुनिया तो चेतावनी दी कि ज़ैपसोरिज़िया प्लांट में परिणाम और भी बुरा होगा। कुलेबा ने ट्वीट कर कहा कि अगर यह फट जाता है, तो यह चोरनोबिल से 10 गुना बड़ा होगा! रूसियों को तुरंत आग बंद करना चाहिए। दमकलकर्मियों को अनुमति देनी चाहिए। एक सुरक्षा क्षेत्र स्थापित करना चाहिए।

एनेर्होदर में देश का एक-चौथाई बिजली उत्पादन होता है। वहां लड़ाई ऐसे वक्त हो रही है, जब रूस और यूक्रेन के बीच दूसरे दौर की बातचीत में नागरिकों को निकालने और मानवीय सहायता पहुंचाने के लिए एक सुरक्षित गलियारा बनाने के संबंध में एक अस्थायी समझौता हुआ है।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जपोरिजिया न्यूक्लियर प्लांट में आग लगने पर यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की से बातचीत की और रूस से प्रभावित क्षेत्र में अपनी सैन्य गतिविधियों पर तत्काल रोक लगाने तथा आपात बचाव दल को वहां जाने की अनुमति देने की मांग की है।

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की के साथ मिलकर रूस से प्रभावित क्षेत्र में अपनी सैन्य गतिविधियों पर तत्काल रोक लगाने तथा आपात बचाव दल को वहां जाने की अनुमति देने की मांग की है।

Tags: , ,

Related Article

0 Comments

Leave a Comment